Slideshow
|
Bookmark
Like
0 1929

Ruchika, an ardent proponent of parent empowerment had started one of her blogposts on child safety and protection with the following prayer –

A Prayer: It’s not only an expectation but fervent prayer of a parent of a child with special needs that the child is always in a safe secure environment and that the professionals, teachers, caregivers, family members, and all people dealing with the child equally value the child and are kind and sensitive towards the child looking beyond the disability.

This plea to society is one that all families with differently-abled children would relate to.

The presentation above highlights that urgent call to society on child safety and protection. It talks about how we all must strive to create a safe zone for our children, whether at home, at school or at a therapy centre. Please feel free to download it and share it with your friends and family. Help our children by spreading awareness of ways to ensure they remain safe, comfortable and happy where ever they are.

This presentation has been adapted from the presentation made by  Ruchika Sethi Takkar to Gurugram Police in 2014, and has been shared on this platform with prior permission. 

Acknowledgement: We thank Ms Renu Singh, Consultant and Trainer (Project Suvidha) at Enfold Proactive Health Trust for reviewing the content and providing feedback.

We want to extend our heartfelt gratitude to Ms Hemanta Nijhawan for volunteering her time and effort with us towards the translation of this presentation from English to Hindi.

Additionally, please check out the Social Circles tool—a graphic tool to teach your child the concept of personal space and safety.

If you have questions about Autism, Down Syndrome, ADHD, or other intellectual disabilities, or have concerns about developmental delays in a child, the Nayi Disha team is here to help. For any questions or queries, please contact our FREE Helpline at 844-844-8996. You can call or send us a message on WhatsApp.

माता-पिता के सशक्तिकरण की प्रबल समर्थक रुचिका ने निम्नलिखित आग्रह  के साथ बाल सुरक्षा पर अपना एक ब्लॉग पोस्ट शुरू किया है - एक आग्रह: यह न केवल एक अपेक्षा है, बल्कि विशेष आवश्यकता वाले बच्चे के माता-पिता की एक उत्कट विनती  है कि बच्चा हमेशा सुरक्षित  वातावरण में रहे और पेशेवर, शिक्षक, देखभाल करने वाले, परिवार के सदस्य, बच्चे के साथ समान व्यवहार करे और बच्चे को महत्व दें और बच्चे  को विकलांगता से परे देखें, उनके प्रति दयालु और संवेदनशील रहें। समाज से एक यह गुहार है,जिससे विकलांगता से प्रभावित बच्चे  वाले सभी परिवार इससे खुद को जोड़ पाएंगे। ऊपर दिखाई गई प्रस्तुति इस बात पर प्रकाश डालती है कि समाज के लिए तत्काल आह्वान, और हम सभी को अपने बच्चों के लिए एक सुरक्षित क्षेत्र बनाने का प्रयास कैसे करना चाहिए, चाहे वह घर पर हो, स्कूल में या चिकित्सा केंद्र में हो। कृपया इसे बेझिझक डाउनलोड करें और इसे अपने दोस्तों और परिवार के साथ साझा करें। यह सुनिश्चित करने के तरीकों के बारे में जागरूकता फैलाकर हमारे बच्चों की मदद करें कि वे जहां कहीं भी हैं, सुरक्षित, आरामदायक और खुश रहें। अस्वीकरण: इस प्रस्तुति को रुचिका सेठी टक्कर द्वारा 2014 में गुरुग्राम पुलिस को दी गई प्रस्तुति से अनुकूलित किया गया है, और इस मंच पर पूर्व अनुमति के साथ साझा किया गया है। अभिस्वीकृति :हम सुश्री रेणु सिंह, जो की एन्फोल्ड प्रोएक्टिव हेल्थ ट्रस्ट में सलाहकार और प्रशिक्षक (परियोजना सुविधा) के रूप कार्यरत हैं उनको  हम इस सामग्री की समीक्षा करने और प्रतिक्रिया प्रदान करने के लिए धन्यवाद देते हैं।  इस प्रस्तुति का अंग्रेजी से हिंदी में अनुवाद करने के लिए अपना समय और प्रयास स्वेच्छा से देने के लिए हम सुश्री हेमंत निझावन का हार्दिक आभार व्यक्त करते हैं। इसके अतिरिक्त, कृपया सोशल सर्कल टूल देखें। आपके बच्चे को व्यक्तिगत स्थान और सुरक्षा की अवधारणा सिखाने के लिए एक ग्राफिक उपकरण।  
Suggested Service Providers