Government Schemes: Education, scholarships & skill training for individuals with developmental disabilities
Helpline844 844 8996
Slideshow
|
Bookmark
Like
0 1909

The government has implemented a number of schemes and allowances for individuals with developmental disabilities. The purpose of these schemes is to promote the welfare of individuals diagnosed with Intellectual and Developmental disabilities. This presentation highlights a few Central Government benefits that are applicable to individuals with disabilities** of Indian origin. In addition, your State may have added benefits for you according to where you live and the documents you carry that affirm your child’s diagnosis.

This presentation focuses on a number of schemes. For instance, educational schemes, concessions, loans, scholarships and skill training opportunities for individuals with developmental disabilities.

To stay informed and be aware of allowances/mandates that are well within your rights please also read The Rights of Persons with Disabilities (RPWD) Act, 2016, which was enacted to promote and preserve the rights and dignity of individuals with different forms of disabilities, across all walks of their life : educational, social, legal and cultural. To further learn about more of government schemes check out this link

**The criteria for the applicability of schemes or concessions may vary depending on the nature and also severity of your child’s disability. Hence, please check the validity/suitability of any scheme/concession that fits your child’s health profile before seeking to avail it.

DISCLAIMER: Please note that this guide is for information purposes only and is not a comprehensive guide on schemes and benefits offered to individuals with developmental disabilities by the Government of India. Therefore, please consult a financial advisor/lawyer/social worker for any legal consultations/advise to understand the suitability of schemes and benefits pertaining to your child’s needs.

Acknowledgements: We extend our gratitude to

Mrs. HimaBindu Gattu (Principal & Founding member of Abhilasha: Research centre for special needs- Hyderabad),

Mrs. K. Lakshmi (Founding member & Secretary, Parents Association for Autistic Children/PAAC-Hyderabad) and

Mrs. Radha Ramesh (Director, Vidya Sagar – Chennai)

for taking the time and effort to offer their suggestion and feedback towards this presentation.

If you have questions about Autism, Down Syndrome, ADHD, or other intellectual disabilities, or have concerns about developmental delays in a child, the Nayi Disha team is here to help. For any questions or queries, please contact our FREE Helpline at 844-844-8996. You can call or what’s app us. 

 

 

बौद्धिक एवं विकासात्मक विकलांगता से प्रभावित व्यक्तियों के कल्याण को बढ़ावा देने के लिए भारत सरकार द्वारा कई योजनाएं और भत्ते लागू किए गए हैं। यह प्रस्तुति केंद्र सरकार के कुछ लाभों पर प्रकाश डालती है जो भारतीय मूल के विकलांगता से प्रभावित व्यक्तियों** पर लागू होते हैं। इसके अलावा, हो सकता है कि आपके राज्य ने आपके रहने के स्थान और आपके द्वारा रखे गए दस्तावेज़ों के अनुसार आपके बच्चे के निदान की पुष्टि की हो, आपके लिए अतिरिक्त लाभ हो सकते हैं। यह प्रस्तुति विकासात्मक विकलांगता से प्रभावित व्यक्तियों के लिए शैक्षिक योजनाओं, रियायतों, ऋण, छात्रवृत्ति और कौशल प्रशिक्षण के अवसरों पर केंद्रित है । जानकारी और उन भत्तों/जनादेशों से अवगत रहने के लिए जो आपके अधिकारों का हिस्सा है, कृपया विकलांग व्यक्तियों के अधिकार (RPWD) अधिनियम, 2016 को भी पढ़ें।जो विभिन्न प्रकार के विकलांगता से प्रभावित व्यक्तियों के अधिकारों और सम्मान को बढ़ावा देने और उनके जीवन के सभी क्षेत्रों को संरक्षित करने के लिए अधिनियमित किया गया था: शैक्षिक, सामाजिक, कानूनी और सांस्कृतिक। योजनाओं या रियायतों की प्रयोज्यता के लिए मानदंड आपके बच्चे की विकलांगता की प्रकृति और गंभीरता के आधार पर भिन्न हो सकते हैं। कृपया किसी भी योजना/रियायत की वैधता/उपयुक्तता की जांच करें जो इसका लाभ उठाने की मांग करने से पहले आपके बच्चे के स्वास्थ्य प्रोफ़ाइल को फिट बैठता है । अस्वीकरण: कृपया ध्यान दें कि यह गाइड केवल सूचना उद्देश्यों के लिए है और सरकार द्वारा प्रदान की जाने वाली योजनाओं और लाभों पर एक व्यापक मार्गदर्शिका नहीं है। कृपया किसी भी कानूनी परामर्श के लिए किसी वित्तीय सलाहकार/वकील/सामाजिक कार्यकर्ता से परामर्श करें/अपने बच्चे की जरूरतों से संबंधित योजनाओं और लाभों की उपयुक्तता को समझने की सलाह लें । आभार: हम इनके प्रति कृतज्ञता व्यक्त करते हैं श्रीमती हिमाबिंदू गट्टू (विशेष आवश्यकताओं के लिए अभिलाषा अनुसंधान केंद्र- हैदराबाद की प्रधानाचार्य और संस्थापक सदस्य), श्रीमती के लक्ष्मी (संस्थापक सदस्य और सचिव, ऑटिस्टिक चिल्ड्रन के लिए माता-पिता संघ / पीएएसी-हैदराबाद) और श्रीमती राधा रमेश (निदेशक, विद्या सागर - चेन्नई) इस प्रस्तुति के लिए अपने सुझाव और प्रतिक्रिया देने के लिए समय और प्रयास देने के लिए।

Article 1 of 8 articles in series
|

57011
11/02/2021

Jitendra Solanki

56978
16/07/2020

Jitendra Solanki

Suggested Service Providers
Select your language