Infographic
| 4 Minutes |

0 12286

It is very likely that the diagnosis of Autism Spectrum Disorder ( ASD) or Attention Deficit Hyperactivity Disorder ( ADHD) can be delayed in a child when the two conditions co-occur. As compared to when the child presents just one condition (ASD or ADHD). This is because on the surface it is possible to mistake one condition for another. As there is a fair degree of overlap in the child’s behavioural symptoms. For example, when a parent finds it difficult to have a conversation with their child. It’s easy to mistake their lack of attention in social setting for deficit in social communication skills (or vice versa). However, understanding the underlying cause of your child’s behaviour is very important. It is the key to seeking the most appropriate medical intervention at the earliest.

Please use this printable infographic to help understand the two conditions ASD and ADHD in a setting where they can co-occur in a child. You may use this as a stepping stone to delve further into understanding your child’s unique requirements. For a more detailed understanding of both ASD or ADHD, you may also refer to this article that speaks about the key differences between the two conditions.

If you have questions about Autism, Down Syndrome, ADHD, or other intellectual disabilities, or have concerns about developmental delays in a child, the Nayi Disha team is here to help. For any questions or queries, please contact our FREE Helpline at 844-844-8996. You can call or what’s app us. Our counselors speak different languages including English, Hindi, Malayalam, Gujarati, Marathi, Telugu, and Bengali.

DISCLAIMER: Please note that this guide is for information purposes only. Please consult a qualified health practitioner for safe management.

  यदि आपके बच्चे ऑटिज्म डाउन सिंड्रोम ए डी एच डी या अन्य बौद्धिक क्षमताओं के बारे में प्रश्न है या किसी बच्चे के विकास में देरी के बारे में चिंता है तो नई दिशा टीम मदद के लिए यहां है. किसी भी प्रश्न पूछताछ के लिए कृपया हमारी मुक्त हेल्पलाइन- 844-844-8996  पर हमें कॉल या व्हाट्सएप कर सकते हैं। हमारे परामर्शदाता अंग्रेजी, हिंदी यह बहुत संभव है कि किसी बच्चे में ऑटिज्म स्पेक्ट्रम डिसऑर्डर (ए एस डी) या अटेंशन डिफिसिट हाइपरएक्टिविटी डिसऑर्डर (एडीएचडी) के निदान में देरी हो सकती है, जब दोनों ही एक साथ मौजूद हों। इसकी तुलना में जब बच्चा केवल एक ही अवस्था (ए एस डी) या (ए डी एच डी) में हो। ऐसा इसलिए है क्योंकि सतही तौर पर एक अवस्था को दूसरी अवस्था समझ लेना संभव है। चूंकि बच्चे के व्यवहार संबंधी लक्षणों में काफी हद तक एक जैसा क्रम (ओवरलैप) दिखाई देता है। उदाहरण के लिए जब माता-पिता को अपने बच्चों के साथ बातचीत करना मुश्किल लगता है तब सामाजिक परिवेश में, उनके ध्यान की कमी को, सामाजिक संचार कौशल में कमी (या इसके विपरीत) कहना आसान हो जाता है। हालांकि आपके बच्चे के व्यवहार के अंदरूनी कारण को समझना बहुत महत्वपूर्ण है। यह जल्द से जल्द सबसे उपयुक्त चिकित्सा की ओर जाने की एक कुंजी है।  कृपया इस मुद्रण योग इंफोग्राफिक्स का उपयोग दो अवस्था ए एस डी और ए डी एच डी को उस सेटिंग में समझने में मदद के लिए करें जहां वे एक बच्चे में एक साथ घटित हो रही हो। आप इसे अपने बच्चे की विशिष्ट आवश्यकताओं को समझने के लिए एक कदम के रूप में उपयोग कर सकते हैं। ए एस डी या ए डी एच डी दोनों की अधिक विस्तृत जानकारी के लिए आप इस लेख को भी देख सकते हैं जो दोनों अवस्था के बीच प्रमुख अंतरों के बारे में बताता है। ,मलयालम ,गुजराती, मराठी ,तेलुगू और बंगाली सहित विभिन्न भाषाएं बोलते हैं.

Article 1 of 18 articles in series
| ,

85233
27/07/2023

8 Tips from a Parent | Parenting Tips

Ummeed Child Development Center

85230
27/07/2023

Learn About ADHD | What is ADHD ?

Ummeed Child Development Center

Suggested Service Providers